गोंडा अपहरण केस : चार करोड़ की फिरौती मांगने वाली महिला सहित छह गिरफ़्तार, पुलिस टीम को पुरस्कार

Font Size

गोंडा, 25 जुलाई । यूपी के गोंडा जिले से अपहृत हुए बच्चे की सशकुशल बरामदगी करने वाली पुलिस और एसटीएफ टीम को एडीजी ने एक-एक लाख के इनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि ऑडियो भेजकर चार करोड़ की फिरौती मांगने वाली महिला समेत छह लोगों को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है ।  
सीओ के मुताबिक शुक्रवार से पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही थी। शनिवार को अपहरणकर्ताओं की भौरीगंज रोड पर सर्विलांस से लोकेशन मिली थी।

इसके बाद एसटीएफ और पुलिस टीम ने उनका पीछा किया तो कार एक खंभे से जा टकराई। कार टकराने के बाद भागने के लिए बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायर करना शुरू कर दिया। जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग शुरू कर दी, दो बदमाश बुरी तरह घायल हो गए। पुलिस ने बच्चे को सशकुल बरामद कर लिया। मुठभेड़ के बाद लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंनें बच्चे की सकुशल बरामदगी पर पुलिस और एसटीएफ की टीम को एक-एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की है। 


एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि मुठभेड़ मामले में जो भी व्यक्ति संलिप्त है उसके खिलाफ जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।  मुठभेड़ का खुलासा करते हुए एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने बताया कि शनिवार को हुई पुलिस और एसटीएफ की मुठभेड़ में एक महिला समेत छह लेागों को गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार किए गए लोगों में सूरज पांडे निवासी शाहपुर थाना परसपुर, हाल मुकाम सकरोरा थाना करनैलगंज, छवि पांडे पत्नी सूरज पांडे, राज पांडेय, उमेश यादव निवासी सकरोड़ा पूर्वी थाना करनैलगंज, दीपू कश्यप निवासी सोनवारा थाना करनैलगंज को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया गया है। सभी लोग गोंडा जिले के रहने वाले हैं। उनके पास से अपहरण में प्रयोग की गई एक कार, एक 32 बोर की पिस्टल, दो अदद कारतूस, 315 बोर का तंमचा भी बरामद किया गया है। 


गोंडा जिले के करनैलगंज से कारोबारी के पोते की किडनैपिंग के बाद कारोबारी के पास एक ऑडियो आया। जिसमें किडनैपिंग में शामिल महिला कारोबारी को धमकी दे रही है। महिला बोली-बच्चे की सलामती के लिए चार करोड़ की व्यवस्था करो। नहीं तो बच्चे की उम्मीद छोड़ दो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: