“हरियाणा में 15 मई से चलने वाली बसों के लिए केवल ऑनलाइन टिकट बुकिंग”

Font Size

चंडीगढ़, 14 मई- हरियाणा में 15 मई से चुनिंदा मार्गों पर शुरू हो रही बस सेवा के माध्यम से यात्रा के लिए केवल कन्फर्म बुकिंग वाले यात्रियों को ही बस अड्डे में प्रवेश की अनुमति होगी। बसों में यात्रा करने के लिए केवल ऑनलाइन पोर्टल http://hartrans.gov.in के माध्यम से ही बुकिंग की जा सकेगी। यात्रा के लिए मार्गों का विवरण और किराये से संबंधित जानकारी भी वेबसाइट पर उपलब्ध करवाई गई है।
राज्य के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि सरकार ने लोगों की सुविधा के लिए जरूरी सुरक्षा उपायों के साथ 15 मई, 2020 से कुछ चुनिंदा मार्गों पर बस सेवा शुरू करने का निर्णय लिया है।

 

उन्होंने बताया कि शुरू में केवल 10 जिलों-अम्बाला, भिवानी, हिसार, कैथल, करनाल, नारनौल, पंचकूला, रेवाड़ी, रोहतक और सिरसा से ही बसें चलाई जाएंगी। इसके लिए प्रदेश के सभी डिपो महाप्रबंधकों को जरूरी निर्देश दिए गए हैं और सुरक्षा सम्बन्धी निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करवाना सम्बन्धित डिपो महाप्रबंधक की जिम्मेदारी होगी।

उन्होंने बताया कि इस दौरान सोशल डिस्टेंस का खास ख्याल रखते हुए प्रत्येक बस में अधिकतम 30 यात्रियों को ही बिठाया जाएगा। निर्धारित बस अड्डïे में प्रवेश से पहले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी और हर यात्री के लिए मास्क पहनना जरूरी होगा। बिना मास्क पहने यात्री को बस में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

बस रूट और समय सारणी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें :  Bus Rout Haryana Roadways

मूलचंद शर्मा ने बताया कि राज्य परिवहन की बसें फिलहाल हरियाणा से बाहर और कोरोना वायरस से अत्यधिक प्रभावित क्षेत्रों में शुरू नहीं जाएंगी। बसों का परिचालन हरियाणा राज्य परिवहन के बस अड्डïों से निर्धारित बस अड्डïों तक ही किया जाएगा और रास्ते में पडऩे वाले स्टेशन से किसी भी यात्री को बस में चढऩे या उतरने की अनुमति नहीं होगी। कोरोना वायरस से प्रभावित जिलों से गुजरने वाली बसें बाइपास या फ्लाईओवर से गुजरेंगी।

उन्होंने बताया कि अगर किसी कारणवश किसी मार्ग पर बस परिचालन संभव नहीं होगा तो प्रस्थान के समय से दो घंटे पूर्व सूचना के साथ बस परिचालन रद्द कर दिया जाएगा। ऐसी स्थिति यात्री द्वारा दिया गया किराया वापिस कर दिया जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: