शराब के नशे में पैसों के लेनदेन को लेकर हुई थी युवक की हत्या : एक गिरफ्तार

Font Size

गुरुग्राम : गुरुग्राम के गांव फतेपुर नजदीक कलवाङी नाका, थाना बिलासपुर के एरिया में हत्या कर युवक की लाश को कुएं में डालकर आग लगाने की वारदात को अन्जाम देने वाले एक आरोपी को अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया । शराब के नशे में पैसों के लेनदेन को लेकर आरोपी व मृतक के बीच में झगङा होने पर आरोपी ने शराब की बोतल व पत्थर से चोटें मारकर हत्या की वारदात को अन्जाम दिया था। पुलिस जांच के अनुसार हत्या करने के बाद आरोपी ने मृतक के शव को नजदीक के कुएं में डालकर आग लगा दी थी।

घटना की मुख्य बातें :

गुरुग्राम  पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने बताया कि गत 6 फ़रवरी को थाना बिलासपुर, गुरुग्राम में अनिल कुमार पुत्र रणसिंह गांव पथरेङी, जिला गुरुग्राम ने आकर एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि ये दो भाई है और इसका छोटा भाई मनोज कुमार उम्र 30 साल जो दिनांक 03 फ़रवरी को घर से ट्रैक्टर लेकर तावडू फार्मट्रक ऐजन्सी में ट्रैक्टर में काम कराने गया था। उसका ट्रैक्टर ऐजन्सी में तावडू खङा हुआ है तथा इसका भाई आज तक घर नही पहुँचा। दिनांक 06 फ़रवरी को ताराचन्द पुत्र खुशीराम जो इनके गांव का है ने हमारे घर आकर बतलाया कि उन्होनें मनोज के साथ कलवाडी शराब के ठेके पीछे बैठकर दारु पी थी और वो मनोज को वहीं ठेके के पीछे कलवाडी छोड कर आए थे। इसका भाई बिना बताए कहीं चला गया है।

▪इस शिकायत पर थाना बिलासपुर, गुरुग्राम में धारा 346 भा.द.स. के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪इस अभियोग में अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए जब पुलिस टीम अभियोग में गुमशुदा व्यक्ति की छानबीन करते हुए गाँव फतेपुर में महेन्द्रा लॉजिस्टिक वियरहाऊस के पीछे नजदीक कलवाङी नाका के पास खेतों में बने कोटङे के पास पहुंची तो वहां पुलिस टीम द्वारा गुमशुदा युवक का एक जूता मिला तो पुलिस को अपनी कार्यकुशलता से आसपास के जगहों की छानबीन की तो नजदीक ही एक कुंआ दिखाई दिया जहां पुलिस टीम को कुंए पर खून के निशान भी मिले। उसके बाद जब पुलिस टीम द्वारा कुएं के अन्दर उतरकर देखा तो एक युवक जली हुई अवस्था में मिला। जिसकी पहचान उपरोक्त अभियोग में गुमशुदा युवक मनोज के रुप में हुई।

▪पुलिस टीम द्वारा मृतक का पोस्टमार्टम कराकर मृतक के शव को मृतक के परिजनों के हवाले किया गया व अभियोग में धारा 302, 201 भा.द.स. ईजाद (जोङी) की गई।

▪इस अभियोग में अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने आगामी कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, अपनी समझबुझ व मेहनत व लग्न से उपरोक्त अभियोग में गुमशुदा युवक की हत्या करके उसके शव को कुएं में डालकर जलाने की वारदात को अन्जाम देने वाले 01 आरोपी को आज दिनांक 10.02.2020 को बिलासपुर चौक, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान ताराचन्द उर्फ सेठी पुत्र खुशीराम निवासी पथरेङी जाट, थाना बिलासपुर, जिला गुरुग्राम, उम्र 32 वर्ष के रुप में हुई।

▪आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪आरोपी से प्रारम्भिक पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि इसका मृतक के साथ पैसों का लेनदेन था। दिनांक 03.02.2020 को यह व मृतक गाँव फतेपुर में महेन्द्रा लॉजिस्टिक वियरहाऊस के पीछे नजदीक कलवाङी नाका के पास खेतों में बने कोटङे के पास बैठकर शराब पी रहे थे, तभी पैसों के लेनदेन को लेकर इन दोनों के बीच झगङा हो गया। इस झगङे को लेकर इसने शराब की बोतल से मृतक की गर्दन पर वार किया और नजदीक पङे पत्थर से उसके सिर पर भी चोटें मारी, जिसके कारण उसकी मृत्यु हो गई। हत्या करने के बाद आरोपी ने मृतक के शव को नजदीक ही बने कुएं में डाल दिया व उसके ऊपर पुलियां डालकर उसकों जला दिया और वहां से भाग गया।

▪आरोपी को आज दिनांक 10.02.2020 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा।

▪पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपी से उपरोक्त अभियोग की वारदात को बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: