मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने लोहट व सकड़ी चीनी मिल की जमीन बियाडा को हस्तांतरित करने का किया विरोध, सीएम नीतीश कुमार का पुतला फूंका

Font Size

मधुबनी। आज मिथिला स्टूडेंट यूनियन द्वारा लोहट, और सकड़ी चीनी मिल की जमीन बियाडा को हस्तांतरित किए जाने के कारण एमएसयू द्वारा थाना मोड़,मधुबनी में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन किया गया।


धरना में उपस्थित संगठन के संगठन मंत्री राघवेंद्र रमन एवं सलाहकार पंकज चौधरी ने कहा कि बिहार सरकार ने जानबूझकर चीनी मिल की जमीन बियाडा को हस्तांतरित किया ताकि चीनी मिल खोलने की अंतिम उम्मीद जो लाखो मैथिल संजोए हुए थे उसे भी खत्म किया जाए।
बियाडा ने आजतक बिहार में एक भी उद्योगिक इंकाई खोलने में सफलता नही प्राप्त की है ऐसी संस्था को जमीन देने का एकमात्र उद्देश्य है कि किसी तरह दोनो चीनी मिल में अवस्थित मिल के स्क्रैप को रैयाम की तरह बेचकर कड़ोरों रुपए का गबन किया जाए।


एमएसयू संस्थापक सदस्य अनूप मैथिल ने कहा कि एमएसयू के कार्यकर्ता किसी भी हाल में चीनी मिल के स्क्रैप को मिल से बाहर नही जाने देगी इसके लिए अगर हमें अपना लहू भी बहाना होगा तो हम एमएसयू सेनानी इसे बहाने के लिए तैयार है।

बिहार प्रदेश प्रभारी प्रियरंजन पांडे एवं प्रवक्ता शशि अजय झा प्रवक्ता ने सेनानियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस साजिस को मिथिला की आम जनता तक घर-घर पहुचाने की जरूरत है।

दोनो वक्ताओं ने कहा कि एमएसयू सकड़ी एवं रैयाम चीनी मिल के अलावे मिथिला क्षेत्र में पड़ने वाले मोतीपुर चीनी मिल,मुजफ्फरपुर, बनमनखी चीनी मिल,पूर्णियां को बियाडा को हस्तांतरित करने के खिलाप भी दोनो जिलों में आंदोलन करेगी एवं वहां की जनता को इस सरकार के गलत इरादे से अवगत करवाएगी।


इस कार्यक्रम में जिला संगठन मंत्री विजय श्री टुन्ना
जिला सचिव राजन झा,अंकित कुमार,जिला उपाध्यक्ष मनोहर झा,जॉनी मैथिल,विकास कुमार,मधुबनी अनुमंडल प्रभारी अभय अमन सिंह आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: