पीएम मोदी बोले , निर्मला के बजट में विजन भी है और एक्शन भी

Font Size

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज संसद में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत केंद्रीय बजट पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि इस बजट में विजन भी है और एक्शन भी। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और उनकी पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई देता हूँ। इसमें किए गए निर्णय से प्रत्येक नागरिक को आर्थिक रूप से सशक्त करने और इस दशक में अर्थव्यवस्था की नींव को मजबूत करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि रोजगार के प्रमुख क्षेत्र होते हैं एग्रीकल्चर, इंफ्रास्ट्रक्चर ,टेक्सटाइल और टेक्नोलॉजी । एंप्लॉयमेंट जनरेशन को बढ़ाने के लिए भी कई निर्णय लिए गए हैं।

पीएम ने कहा कि बजट में किसान की आय दोगुनी हो किसके प्रयासों के साथ ही 16 एक्शन प्वाइंट बनाए गए हैं जो ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार को बढ़ाने का काम करेंगे। बजट में कृषि क्षेत्र के लिए इंटीग्रेटेड पालिसी अपनाई गई। जिससे परंपरागत तौर तरीकों के साथ भी हॉर्टिकल्चर, फिशरी ,एनिमल हसबेंडरी जैसे क्षेत्रों में असर पड़ेगा ।इससे भी नौजवानों के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।

ब्लू इकॉनमी के अंतर्गत फिश प्रोसेसिंग और मार्केटिंग क्षेत्र में भी नए अवसर मिलेंगे। टेक्निकल टैक्सटाइल के लिए नए मिशन की घोषणा हुई है। मैन मेड फाइबर को भारत में प्रोड्यूस करने के लिए रॉ मैटेरियल की ड्यूटी स्ट्रक्चर में भी बदलाव किया गया है। इस रिफॉर्म कि पिछले 3 दशकों से मांग हो रही थी।

पीएम ने कहा कि देश के हेल्थ सेक्टर को नया विस्तार दिया गया है । इस सेक्टर में ह्यूमन रिसोर्स उसके डेवलपमेंट ,डॉक्टर, नर्स, अटेंडेंट हो इसके साथ ही मेडिकल डिवाइस में भी भारत को आगे बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा अनेक नए निर्णय लिए गए हैं। टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में एंप्लॉयमेंट जेनरेशन को बढ़ावा देने के लिए अनेक योजनाबद्ध तरीके से प्रयास किए गए हैं । नए स्मार्ट सिटी जो इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग हो, डाटा सेंटर स्थापित करने की बात, बायो टेक्नोलॉजी और क्वांटम टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों के लिए आवश्यक पॉलिसी निर्धारित बनाए गए । इसके द्वारा भारत ग्लोबल वैल्यू चेंज का मजबूत अंग बनने की तरफ मजबूती से बढ़ रहा है।

 

पीएम ने कहा कि बजट में युवाओं के स्किल डेवलपमेंट को लेकर इस बात पर बल दिया गया है कि जिस प्रकार की आधुनिक भारत के निर्माण में जो स्किल की जरूरत है उस पर फोकस किया जाएगा। अलग-अलग एरिया पर फोकस करने की कम्युनिकेशन पर बल दिया जाएगा। एंटरप्रेन्योरशिप लोकल बॉडीज में इंटर्नशिप और ऑनलाइन टेक्निकल कोर्सेज की व्यवस्था भी की जाएगी। भारत से जो युवा नौकरी के लिए विदेश जाना चाहते हैं उनके लिए ब्रिज कोर्स की व्यवस्था भी की जा रही है। एक्सपोर्ट और एमएसएमई सेक्टर एंप्लॉयमेंट जेनरेशन को ड्राइव करता है, उनके लिए अनेक नई घोषणा की गई है। हर डिस्ट्रिक्ट को एक्सपोर्ट हब बनाने की दिशा में बहुत बड़ा महत्वाकांक्षी योजना का निर्णय लिया गया है। छोटे उद्यमों को बढ़ाने के लिए भी नई पहल की गई है। आधुनिक भारत के लिए आधुनिक शिक्षा का बहुत बड़ा महत्व है। बहुत बड़ा आधार होता है।

पीएम ने कहा कि नेशनल लॉजिस्टिक पॉलिसी से भी कारोबार और रोजगार बढ़ेगा। देश में एयरपोर्ट विकसित करने का निर्णय लिया गया है, हवाई यात्रा को नई ऊंचाई देगा । भारत को आधुनिक बनाने के लिए इंसान बहुत आवश्यक है और टूरिज्म में कम पूंजी निवेश से अधिक रोजगार की संभावना बनेगी। स्टार्टअप और प्रोजेक्ट डेवलपमेंट के जरिए रोजगार बढ़ाने पर बल देंगे।

नौकरी के लिए अब ययवाओं को बार बार परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी। इसके लिए एक एजेंसी का गठन किया जाएगा।।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: