प्रकाश जावड़ेकर ने कहा: अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल में रूस फोकस देश के रूप में भाग लेगा

Font Size

नई दिल्ली : केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि आईएफएफआई भारत का गौरव है और इस वर्ष का आईएफएफआई विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि यह स्वर्ण जयंती संस्करण है। केंद्रीय मंत्री  प्रकाश जावड़ेकर ने आईएफएफआई, 2019 जो कि गोवा में 20 से 28 नवंबर तक होने वाली है, के लिए पहली संचालन समिति की बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी। संचालन समिति की बैठक फिल्म महोत्सव के आयोजन की प्रक्रिया में शामिल प्रमुख हितधारकों के बीच आवश्यक समन्वय सुनिश्चित करने के लिए आयोजित की गई थी।

श्री जावड़ेकर ने घोषणा की कि एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स आर्ट्स एंड साइंसेज के अध्यक्ष जॉन बेली ने इस वर्ष आईएफएफआई के लिए अपनी सहभागिता की पुष्टि कर दी है। इस समारोह के लिए रोमांच और उत्सुकता पैदा करने के लिए फिल्म बिरादरी तक पहुंचने हेतु भारत के सात शहरों में रोड शो किया जाएगा। फिल्मों के लिए सुसंगत प्रौद्योगिकियों को प्रदर्शित करने के लिए व्यावसायिक प्रदर्शनी और महात्मा गांधी की 150 वीं वर्षगांठ को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी इस साल के समारोह के साथ आयोजित की जाएगी। फिल्म समारोह के दौरान फिल्मों को दिखाने के लिए शामिल किये जाने वाले निजी थिएटरों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी जिससे कि लोकप्रिय फिल्मों की अतिरिक्त स्क्रीनिंग की भारी मांग पूरी की जा सके।

मीडिया से बातचीत के दौरान मंत्री ने कहा कि रूस इस साल फोकस देश के रूप में भाग ले सकता है। एफटीआईआई और एसआरएफटीआई सहित प्रमुख फिल्म संस्थानों के छात्र इस साल के महोत्सव के प्रबंधन में शामिल होंगे। इस साल दिखाई जाने वाली फिल्मों की सूची को सितंबर तक अंतिम रूप दे दिया जाना है ताकि सिने प्रेमियों को महोत्सव में भाग लेने के लिए योजना बनाने के लिए पर्याप्त समय मिल सके। मंत्री ने यह भी कहा कि इस वर्ष के समारोह में गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर को श्रद्धांजलि दी जाएगी, जिन्होंने गोवा को आईएफएफआई के लिए स्थायी स्थान बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत ने कहा कि 50वीं आईएफएफआई का आयोजन राज्य के लिए गर्व का क्षण है और उनकी सरकार महोत्सव के इस संस्करण को यादगार बनाने के लिए सर्वश्रेष्ठ बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराने और आतिथ्य व्यवस्था सुनिश्चित करने में कोई कोरो-कसर नहीं छोड़ेगी।

समारोह के दौरान केंद्रीय मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर और गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत द्वारा एक विशेष आईएफएफआई स्वर्ण जयंती संस्करण पोस्टर भी जारी किया गया।
संचालन समिति की बैठक में केंद्रीय मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर, गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत; सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में सचिव श्री अमित खरे; गोवा के मुख्य सचिव श्री परिमल राय; एंटरटेनमेंट सोसाइटी ऑफ गोवा (ईएसजी) के उपाध्यक्ष श्री सुभाष फाल देसाई; श्री शाजी एन करुण, श्री ए के बीर, श्री राहुल रवैल, सुश्री मंजू बोरा, श्री रवि कोटरकारा और श्री मधुर भंडारकर सहित फिल्म समुदाय के प्रतिनिधियों; फिल्म समारोह निदेशालय, एंटरटेनमेंट सोसाइटी ऑफ़ गोवा, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और गोवा सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।
श्री प्रकाश जावड़ेकर ने यह भी बताया कि श्री करण जौहर, श्री सिद्धार्थ रॉय कपूर, श्री फिरोज अब्बास खान और श्री सुभाष घई सहित प्रख्यात फिल्मी हस्तियां भी संचालन समिति का हिस्सा होंगी।

विशेष आईएफएफआई स्वर्ण जयंती संस्करण पोस्टरआईएफएफआई के बारे में

भारत सरकार द्वारा इसका आयोजन प्रत्येक वर्ष गोवा में 20 से 28 नवंबर तक किया जाता है। इसका उद्देश्य फिल्म निर्माण की कला की उत्कृष्टता को प्रस्तुत करने के लिए सिनेमा की दुनिया को एक समान मंच प्रदान करना है। यह भारत का सबसे प्रतिष्ठित फिल्म महोत्सव है और एशिया में कहीं भी आयोजित होने वाला पहला अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव है।
आईएफएफआई के प्रमुख वर्गों में अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता, फेस्टिवल कैलिडोस्कोप, वर्ल्ड पैनोरमा, इंडियन पैनोरमा, मास्टरक्लासेज, इन-कंवरसेशन, स्पेशल रेट्रोस्पेक्टिव, होमेज, ओपन एयर स्क्रीनिंग, एनएफडीसी द्वारा आयोजित फिल्म बाजार – आदि शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: