गुरुग्राम पुलिस ने एक बार फिर 100 मोबाइल फोन बांटे व फोन मालिकों का जीता दिल, लोगों ने साइबर सेल की भूमिका को प्रशंसनीय बताया

Font Size

गुरुग्राम । गुरुग्राम पुलिस की साइबर सेल ने शहर में खोये हुए 100 मोबाईल फोन बरामद कर एक बार फिर अपने टैग लाइन सेवा, सुरक्षा और सहयोग के प्रति लोगों के विश्वास को मजबूत किया है। शशांक कुमार सावन, पुलिस उपायुक्त, मुख्यालय, गुरुग्राम ने आज मोबाईल फोन के मालिकों को पुलिस आयुक्त कार्यालय में बुलाकर उनके मोबाईल फोन सौंपे। गुरुग्राम पुलिस की इस अनूठी पहल व कार्यशैली का लोगों पर गहरा प्रभाव पड़ा है। फोन प्राप्त करने वालों ने गुरुग्राम पुलिस की सराहना की और धन्यवाद किया।उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व भी मोहम्मद अकील, पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम ने गत 17 जुलाई को भी गुरुग्राम पुलिस की साईबर सैल टीम द्वारा ढूढ कर बरामद किए गए 65 मोबाईल फोन्स को उनके मालिकों को सौंपा था। लगभग एक माह के अंदर गुरुग्राम पुलिस का यह दूसरा बड़ा प्रयास है।गुरुग्राम के शहरियों में यह इसलिए भी चर्चा का विषय बना गया है क्योंकि वर्तमान समय में प्रत्येक व्यक्ति के लिए मोबाईल फोन आवश्यक आवश्यकता बन गया है। अकेले मोबाईल के माध्यम से सारे आवश्यक काम आसानी से व जल्दी हो जाते है। आज लोग अपना सारा रिकोर्ड, फ़ोटो, बैंक डिटेल व जानकारियां मोबाईल में ही सुरक्षित रखते है। इसलिए पिछले कुछ वर्षो में मोबाईल फोन का प्रयोग करने वाले लोगों की संख्या में बहुत भारी ईजाफा हुआ है। मोबाईल फोन के यूजर्स की बढती तादात को देखते हुए मोबाईल बनाने वाली कम्पनियों में भी एक-दूसरे से अच्छे व सस्ते फोन बनाकर लोगों तक पहुँचाने की होङ लगी हुई है। जिसके कारण वर्तमान समय में प्रत्येक व्यक्ति महंगे फोन रखते हैं जिनकी चोरी भी आम बात हो गयी। कई बार प्रमुख व्यक्तियों के फोन भी गम हो जाने की शिकायतें आतीं हैं। कुछ मामले में लोगों की असावधानी के कारण फोन गुम होते हैं तो कुछ मामले में चोरी की घटनाएं।पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम द्वारा मोबाईल फोन गुम होने पर मामला दर्ज करने व उन्हें बरामद करने के सम्बन्ध में दिए गए आदेशों के परिणामस्वरुप साईबर सैल, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अब तक 165 फोन बरामद करने में सफलता हासिल की है। इसके लिए पुलिस आधुनिक तकनीक का भी इस्तेमाल करती है जिससे फोन ढूंढने में आसानी होती है।इस बार 100 मोबाइल फोन उनके मालिको को सौंपने के बाद पुलिस आयुक्त शशांक कुमार सावन ने कहा की यह एक छोटी शुरुआत है लेकिन इससे लोगो को काफी राहत मिलेगी। गुरुग्राम पुलिस द्वारा मोबाइल ढूंढने का यह अभियान लगातार जारी रहेगा तथा भविष्य में कोशिश यह रहेगी कि प्रत्येक सप्ताह में बरामद हुए फोन को कानूनी औपचारिकताएं पूरी करने के उपरांत उसी सप्ताह फोन के मालिक को दे दिया जाए। उन्होंने आमजन से भी अपील की है कि यदि किसी को कोई फोन मिल जाए तो उसे नजदीकी थाना में जमा करा दें । उन्होंने आगाह किया कि खोए हुए फोन अपने पास रखकर कानूनी झंझट में ना पड़ें।इस आयोजन के दौरान अपने खोए हुए मोबाईल फोन को पाकर लोगों ने पुलिस टीम की इस कोशिश की जमकर प्रशंसा की।किसने क्या कहा ? *1. अशोक विहार फेस-3 गुरुग्राम में रहने वाले अशोक मिश्रा कहा कि करीब 03 महिने पहले उसका मोबाईल फोन ईफ्को चौक, गुरुग्राम में कही गुम हो गया था जिसे गुरुग्राम पुलिस द्वारा ढूँढकर व से बरामद करके उसे वापस लौटाया गया है। अपने खोये हुआ मोबाईल पाकर वह बहुत खुश है और पुलिस द्वारा की गई मेहनत के लिए गुरुग्राम पुलिस को धन्यवाद देते।**2. दिल्ली नजफगढ के रहने वाले कर्मबीर ने बतलाया कि उनका मोबाईल फोन करीब 02 महिनें पहले सैक्टर-7, गुरुग्राम में गुम हो गया थी। मोबाईल गुम होने के बाद उन्हें विश्वास नही था कि उनका खोया हुआ मोबाईल फोन उन्हें इतनी आसानी से वापस मिल जाएगा। गुरुग्राम पुलिस द्वारा उनका मोबाईल फोन ढुढकर उन्हें सम्मान के साथ वापिस लौटाने पर वह बहुत खुश है और पुलिस टीम का बहुत-बहुत धन्यवाद करता है।**3. डून्डाहेङा की रहने वाली सुषमा देवी को उनका खोया हुआ फोन वापिस मिलने पर बतलाया कि करीब 03 महिने पहले गाँव डून्डाहेङा में ही इनका फोन गुम हो गया था। जिसके गुम होने की रिपोर्ट उन्होनें पुलिस को दी और पुलिस टीम ने उनका मोबाईल फोन ढूढकर उन्हें चौका दिया और व अपना खोया हुआ मोबाईल फोन पाकर बहुत खुश है व गुरुग्राम पुलिस की शुक्रगुजार है।**4. भरतपुर, राजस्थाना के रहने वाले गंगाराम ने गुरुग्राम पुलिस के प्रति अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि देवीलाल कालोनी सैक्टर-9, गुरुग्राम में उनका मोबाईल फोन कही गुम हो गया था। जिसको गुरुग्राम पुलिस ने ढूढकर व उन्हें फोन करके अपने गुम हुए फोन को वापस ले जाने का आग्रह करने पर उसे विश्वास नही हो रहा कि पुलिस टीम इस प्रकार से भी कार्य करती है। गुरुग्राम पुलिस के इस काम की सराहना करता हूं।**5. थाना मानेसर के एरिया में ट्रैफिक ड्यूटी पर तैनात सिपाही बलजीत ने कहा कि उनका मोबाईल फोन करीब 02 महीने पहले ड्यूटी करते समय कही गुम हो गया था। मोबाईल गुम होने के पश्चात उन्हें पूर्ण विश्वास था कि गुरुग्राम पुलिस की तकनीकी सेवा उन्हें उनका गुम हुआ मोबाईल वापस दिलवा देगी और आज दिनांक 10.07.2019 को उन्हे बुलाकर उनका मोबाईल फोन उन्हें सौंपा गया जिससे वे काफी खुश है और गुरुग्राम पुलिस की कुशलता की सहारना करते हुए उन्हें धन्यवाद देते है।**6. हिमाचल की रहने वाली सरला ने बतलाया कि करीब 09 महिने पहले उनका मोबाईल फोन वजीराबाद, गुरुग्राम में एक आटो में गुम हो गया था। जिसकी सूचना इसने पुलिस को दी और पुलिस इनके गुम हुए मोबाईल को ढूढकर व उसे बरामद करके उनका विश्वास जीत लिया। उन्होनें अपना मोबाईल फोन पाकर ऐसा भी लगा कि गुरुग्राम पुलिस बहुत Active, Effective & Helpful है। गुरुग्राम पुलिस के इस अनूठे कार्य के लिए वह गुरुग्राम पुलिस को हार्दिक शुभकामनाए देते हुए धन्यवाद करती है।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: