ओ.एल.एक्स. पर ठगी की वारदात करने वाले 5 युवकों को किया गिरफ्तार

52 / 100
Font Size

कब्जे से 4 एंड्रॉइड फोन मय 6 सिम कार्ड, 2 फर्जी आधार कार्ड, 18 ए.टी.एम. कार्ड तथा एक स्विफ्ट डिजायर गाडी को किया जप्त

जुरहरा, रेखचन्द्र भारद्वाज: स्थानीय थाना पुलिस ने ओएलएक्स साइट पर सस्ते दामों में गाड़ी बेचने के विज्ञापन डालकर भोले भाई लोगों से पर ठगी करने वाले पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है साथ ही उनके कब्जे से 4 एंड्राइड मोबाइल, 6 सिम कार्ड, दो फर्जी आधार, 18 एटीएम कार्ड तथा एक शिफ्ट गाड़ी को जप्त किया गया है।


जुरहरा थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दिनांक 01.05.2021 को मुखबीर ने सूचना दी कि हरियाणा की तरफ से एक स्विफ्ट गाडी रंग सफेद आ रही है जिसमें 5 लडके बैठे हुये हैं जो भोले-भाले लोगों को ओ.एल.एक्स. पर सस्ते दाम पर वाहन बेचने का विज्ञापन डालकर ठगी कर अपने खाते में पैसे डलवाने का काम करते हैं और आज भी किसी पार्टी को जुरहरा में बुलाने वाले हैं। इस सूचना पर पंचायत घर के सामने सहसन मोड जुरहरा पर नाकाबन्दी की गई तो दौराने समय सुबह 9:30 बजे मुखबीर के बताये हुलिया व नम्बर की एक स्विफ्ट डिजायर गाडी पुन्हाना की तरफ से आई व नाकाबन्दी को देखकर चालक गाडी को वापिस पुन्हाना की ओर मोडने लगा तब तक पीछे से एक ट्रैक्टर ट्रोली आने से कार मुड नहीं सकी व पुलिस जाप्ता ने तत्परता से घेरा देकर सिफ्ट डिजायर कार व उसमें बैठे नवयुवकों को पकड लिया।

कार को साईड में कर उसमें बैठे व्यक्तियों को नीचे उतारकर नाम पता पूछा तो कार से उतारे गये युवको ने अपने नाम पते वसीम अहमद पुत्र इस्माईल जाति मेव उम्र 21 साल निवासी ऊचंकी थाना कैथवाडा, मौहम्मद नासिर पुत्र समसुदीन जाति मेव उम्र 20 साल निवासी गांव ऊचंकी थाना कैथवाडा, सैकूल पुत्र समसुदीन जाति मेव उम्र 25 साल निवासी ऊंचकी थाना कैथवाडा, 4-मन्नान पुत्र हारुन जाति मेव उम्र 21 साल निवासी रनियाला खुर्द थाना ऊटावड जिला पलवल हरियाणा व वकील अहमद पुत्र हारुन जाति मेव उम्र 19 साल निवासी रनियाला खुर्द थाना ऊटावड जिला पलवल हरियाणा बताये।

उक्त पांचों युवकों के कब्जे से 4 एण्ड्राईड फोन मय 6 सिम कार्ड, 2 फर्जी आधार कार्ड, 18 ए.टी.एम. कार्ड तथा एक स्विफ्ट डिजायर गाडी को जप्त किया गया। उपरोक्त के कब्जे में मिले मोबाईलों को चेक किया गया तो सभी मोबाईल एण्ड्रोईड सेटों में ओ.एल.एक्स. का ऐप्प डला हुआ मीला तथा कई लोगों के मोबाईलों पर अलग-अलग किस्म के वाहन सस्ती दर पर बेचने के विज्ञापन डाले हुये मिले तथा आर्मी अफसरो की फर्जी आईडी बनाई हुई थी तथा उन आर्मी अफसरो की आईडीयो पर वाहन बेचने के विज्ञापन ओएलएक्स पर डाल रखे थे.


गिरफ्तार आरोपियों से इस सम्बन्ध में अनुसंधान किया गया तो उन्होंने बताया कि वे ओ.एल.एक्स. पर सस्ती दर पर वाहन बेचने का विज्ञापन डालते हैं एवं एक संगठित गिरोह बना कर पैसे ठगने का काम करते हैं। उपरोक्त पांचों आरोपियों का फर्जी सिम के जरिये ओ.एल.एक्स. साईट पर आर्मी अफसरो की फर्जी आई.डी.बनाकर सस्ती दर पर वाहन बेचने का विज्ञापन डालकर भोले-भाले लोगों को फंसाकर गूगल-पे तथा अन्य पेमेन्ट बैंक ऐप्प के जरिये बैंक खातों में पैसे डलवाकर अनुचित लाभ प्राप्त करना पाए जाने पर पुलिस ने पांचों युवकों को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page