द्वारका एक्सप्रेस वे के निर्माण को रफ्तार देने 4 को आएंगे गडकरी : राव इंद्रजीत

52 / 100
Font Size

फरवरी में केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत ने गडकरी से मुलाकात कर निर्माण में हो रही देरी पर जताई थी चिंता


गुरुग्राम। द्वारका एक्सप्रेसवे के निर्माण की धीमी चाल को रफ्तार देने के लिए केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी 4 मार्च को द्वारका एक्सप्रेसवे का निरीक्षण करेंगे। केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि द्वारका एक्सप्रेसवे ग्राम की जीवन रेखा साबित होगा। इसके निर्माण कि धीमी चाल को लेकर वे गत फरवरी माह में श्री गडकरी से मिले थे। 

राव ने कहा कि श्री गडकरी ने द्वारका एक्सप्रेसवे के देरी से चल रहे निर्माण की रिपोर्ट अधिकारियों से तलब की थी जिसके बाद वे स्वयं निर्माण को रफ्तार देने के लिए 4 मार्च निरीक्षण करने पहुंच रहे हैं। राव ने कहा कि केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री गुड़गांव के लिए निर्माणाधीन महत्वपूर्ण योजनाओं को कितनी गंभीरता से ले रहे हैं इसका उदाहरण उन्होंने पेश किया है। राव ने कहा कि गडकरी का दौरा सुबह 10 बजे से खेड़की दौला स्थित द्वारका एक्सप्रेसवे के जंक्शन पॉइंट से शुरू होगा और दिल्ली खत्म होगा। 

राव ने बताया कि पिछले दिनों देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी प्रगति मीटिंग के दौरान द्वारका एक्सप्रेस वे के निर्माण में हो रही देरी पर जवाब तलब किया था। करीब 7 हजार करोड की लागत से तैयार होने द्वारका एक्सप्रेसवे का शिलान्यास मार्च 2019 में किया गया था । 29 किलोमीटर लंबे द्वारका एक्सप्रेसवे के 19 किलोमीटर का क्षेत्र गुरुग्राम में व करीब 10 किलोमीटर का क्षेत्र दिल्ली में स्थित है। गुड़गांव में स्थित करीब 19 किलोमीटर के द्वारका एक्सप्रेसवे का कार्य इस वर्ष जुलाई-अगस्त तक पूरा होने की उम्मीद मंत्रालय के अधिकारी जता रहे हैं।

राव ने कहा कि गुरुग्राम के हिस्से का निर्माण तेज रफ्तार से व तय तिथि मैं पूरा हो सके इसके लिए वे लगातार राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों एवं श्री गडकरी से संपर्क में है। दिल्ली के 10 किलोमीटर क्षेत्र में बनने वाले द्वारका एक्सप्रेसवे के निर्माण में तकनीकी बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है जिसे दूर करने व उनके हल के लिए श्री गडकरी का दौरा लाभदायक सिद्ध होगा।

राव ने बताया कि द्वारका एक्सप्रेसवे महिपालपुर शिव मूर्ति शुरू होकर दिल्ली के द्वारका होते हुए खेड़की दौला पर आकर खत्म होगा। राव ने बताया कि  द्वारका एक्सप्रेसवे के निर्माण पूरा करने का लक्ष्य सितंबर 2022 तक रखा गया है। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम के 19 किलोमीटर क्षेत्र में बनने वाले द्वारका एक्सप्रेसवे के निर्माण को तेज गति से पूरा किया जा सके किसके लिए वे गडकरी से फरवरी माह में मिले थे और उन्हें  जल्द पूरा करने की मांग की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page